• +91 - 9151222277,+91 - 9532222777
  • rmass3392@gmail.com

Rule and Regulation

Law

किसी भी सरकारी, अर्द्ध सरकारी, गैर सरकारी, शासकीय विभाग, व्यक्तिगत या व्यवसायिक प्रतिष्ठान RMASS के किसी पदाधिकारी के परिचय पत्र का अपमान किया गया तो ऐसे व्यक्ति या अधिकारी के विरुद्ध संगठन की जाँच कमेटी की रिपोर्ट के बाद कानूनी कार्यवाही के साथ-साथ सक्षम न्यायालय में मानहानि का अभियोग दर्ज कराया जायेगा।

यदि कोई पदाधिकारी परिचय पत्र का दुरउपयोग करते हुए पाया गया तो उसके विरुद्ध सख्त कार्यवाही की जायेगी।

राष्ट्रीय मानवाधिकार सुरक्षा संघ-सरकार के सभी जाँच एजेंसियों के सहयोगी संस्थान के रुप में कार्य करने हेतु बचनबद्ध है।

सदस्यता आवेदन फार्म एवं शपथ में की गयी गलत या अपूर्ण घोषणा के लिए सदस्य स्वयं जिम्मेदार होगा। जिसके लिए उसके विरुद्ध निष्कासन/कानूनी कार्यवाही अथवा यथासंभव आवश्यक कार्यवाही की जायेगी।

सभी राज्यों में राष्ट्रीय मानव अधिकार सुरक्षा संघ से जुड़ने वाले सदस्यों एवं पदाधिकारियों के पहचान पत्र व मनोनयन प्रमाण पत्र केन्द्रिय कार्यालय से राष्ट्रीय अध्यक्ष/महासचिव के हस्ताक्षर के उपरान्त जारी किये जायेंगे। अन्य किसी के द्वारा जारी पहचान पत्र अवैध माना जायेगा। सम्पूर्ण प्रकरण की जाँच केन्द्रिय कार्यालय द्वारा की जा सकती है।

संस्था का परिचय पत्र अहस्तान्तरणीय है।

संस्था की कार्यकारिणी सभा नियमित रुप से प्रत्येक 3 माह के अन्तराल से अथवा आवश्यकता पड़ने पर बुलाई जा सकती है।

आपातकालीन कार्यकारिणी सभा 24 घंटे के अल्प सूचना से बुलायी जा सकेगी।

राष्ट्रीय मानव अधिकार सुरक्षा संघ को सदस्यता के लिए दी गयी धनराशि वापस नहीं की जायेगी और नहीं समायोजित की जायेगी।

अनुशासन सम्बन्धित संस्था के सभी मामलों में अनुशासन समिति की रिपोर्ट अनिवार्य है।

मुख्यालय भी इसी के आधार पर कार्यवाही करेगा।

राष्ट्रीय स्तर पर सात प्रदेश स्तर पर पाँच एवम् प्रत्येक मण्डल में एक अनुशासन समिति की कार्यकारिणी होगी। जो कि सभी सदस्यों एवम् पदाधिकारियों के कार्यो का देख-रेख करेगी।